बुधवार, 22 मई 2013

मौत भी बहला लेगी दिल अपना हमसे

जब तक जिन्दा है तो
जिंदगी के ही मरीज है,
फिर एक दिन मौत भी

बहला लेगी दिल अपना हमसे!

जय हिन्द,जय श्रीराम,
कुँवर जी,
 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

लिखिए अपनी भाषा में

Google+ Followers