गुरुवार, 23 अक्तूबर 2014

सभी के लिए शुभकारी और अमंगलहारी हो दीपावली।

आस्था, उल्लास, आनन्द और समरसता के इस पावन पर्व पर सभी को परमपिता परमात्मा शान्त चित्त दे, सुखी जीवन दे, समृद्ध व्यवहार दे, अध्यात्मिक वातावरण दे, इश्वर प्रीति-गुरु भग्ति दे, सद्ज्ञान दे।
निरोगी काया निर्मल मन हो,
सात्विक आहार और
 थोडा दान के लिए भी धन हो।
सृष्टि-हित और समाज-हित के अनुसार ही स्वयं-हित करते रहने की समझ हो।

कुछ ऐसी सी ही असीम और अनंत शुभेच्छाओ और प्रार्थनाओ को पूरी करने वाली हम सब की दीवाली हो।

कुँवर जी,
जय हिन्द, जय श्री राम।

9 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी यह उत्कृष्ट प्रस्तुति कल शुक्रवार (24.10.2014) को "शुभ दीपावली" (चर्चा अंक-1776)" पर लिंक की गयी है, कृपया पधारें और अपने विचारों से अवगत करायें, चर्चा मंच पर आपका स्वागत है। दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  2. हैप्पी दीपावली....शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुन्दर ...
    आपको भी दीपावली की शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  4. सुन्दर लेख.........दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं!

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत सुन्दर।
    प्रकाशोत्सव के महा पर्व दीपावली की शृंखला में
    पंच पर्वों की आपको शुभकामनाएँ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत सुन्दर।
    प्रकाशोत्सव के महा पर्व दीपावली की शृंखला में
    पंच पर्वों की आपको शुभकामनाएँ।

    उत्तर देंहटाएं
  7. हैप्पी दिवाली ....शुभकामनाएँ आपको

    उत्तर देंहटाएं
  8. दीपावली की हार्दिक बधाई और शुभकामनायें ...

    उत्तर देंहटाएं

लिखिए अपनी भाषा में

Google+ Followers