गुरुवार, 26 जुलाई 2012

ये सौभाग्य-दुर्भाग्य क्या है......?(कुँवर जी)

सौभाग्य
सिकुड़ता सा
लगा तो
फैली माथे की सलवटें,
अब
ये सौभाग्य-दुर्भाग्य क्या है...?
सब भाग्य है बस.....


जय हिन्द,जय श्रीराम,
कुँवर जी,

10 टिप्‍पणियां:

  1. सब भाग्य का खेल है | सौभाग्य-दुर्भाग्य कुछ नहीं है |

    उत्तर देंहटाएं
  2. आप सभी का स्वागत है...

    कुँवर जी,

    उत्तर देंहटाएं
  3. सब कुछ भाग्य ही है चाहे सौ या दुर ....

    उत्तर देंहटाएं
  4. बहुत ही शानदार और सराहनीय प्रस्तुति....
    बधाई

    इंडिया दर्पण
    पर भी पधारेँ।

    उत्तर देंहटाएं

लिखिए अपनी भाषा में

Google+ Followers