रविवार, 25 सितंबर 2011

माँ जो होती एक बहन मेरी भी..... (कुँवर जी)

राखी के दिन
अपनी सूनी कलाई देख
लड़का आँखों में अपना सब दर्द समेट
 रो ही तो पड़ा था....

माँ जो होती एक बहन मेरी भी..... 

जय हिन्द,जय श्रीराम,
कुँवर जी,

6 टिप्‍पणियां:

  1. Very Very Nice Post
    अपने ब्लाग् को जोड़े यहां से 1 ब्लॉग सबका
    आशा है , आपको हमारा प्रयास पसन्द आएगा!

    उत्तर देंहटाएं
  2. अंदर तक उतर गये कविता के शब्द, शुभकामनाएं.

    उत्तर देंहटाएं
  3. पञ्च दिवसीय दीपोत्सव पर आप को हार्दिक शुभकामनाएं ! ईश्वर आपको और आपके कुटुंब को संपन्न व स्वस्थ रखें !
    ***************************************************

    "आइये प्रदुषण मुक्त दिवाली मनाएं, पटाखे ना चलायें"

    उत्तर देंहटाएं
  4. सुंदर प्रस्‍त‍ुति।



    *दीवाली *गोवर्धनपूजा *भाईदूज *बधाइयां ! मंगलकामनाएं !

    ईश्वर ; आपको तथा आपके परिवारजनों को ,तथा मित्रों को ढेर सारी खुशियाँ दे.

    माता लक्ष्मी , आपको धन-धान्य से खुश रखे .

    यही मंगलकामना मैं और मेरा परिवार आपके लिए करता है!!

    उत्तर देंहटाएं

लिखिए अपनी भाषा में

Google+ Followers