गुरुवार, 26 जुलाई 2012

ये सौभाग्य-दुर्भाग्य क्या है......?(कुँवर जी)

सौभाग्य
सिकुड़ता सा
लगा तो
फैली माथे की सलवटें,
अब
ये सौभाग्य-दुर्भाग्य क्या है...?
सब भाग्य है बस.....


जय हिन्द,जय श्रीराम,
कुँवर जी,

लिखिए अपनी भाषा में

Google+ Followers